इनपुट डिवाइसिज (Input devices of computer in hindi)

Input devices of computer in hindi ÷इनपुट डिवाइसिज कम्प्यूटर से जुड़ी वे डिवाइसिज है जो डाटा को प्रविष्ट (enter) कराने के लिए प्रयोग की जाती है।
         इनपुट टेक्स्ट (Text). ग्राफिक्स (Graphics) व ध्वनि (Sound) के रूप में हो सकती है। विभिन्न प्रकार की इनपुट के लिए विभिन्न प्रकार की इनपुट डिवाइसिज होती है।

 कीबोर्ड [Keyboard]

कीबोर्ड (Keyboard) बहुत लोकप्रिय इनपुट डिवाइस (Input Device) है। ‘Keyboard’ का प्रारूप टाईपराईटर के जैसा होता है। सामान्यतया ‘Keyboard दो आकार का है। 84 Keys या 101/102 keys परन्तु अब “Window‘ और ‘Internet’ के लिये 104 या 108 Keys वाला ‘Keyboard भी उपलब्ध है।
Input devices of computer
डाटा (Data) को विभिन्न प्रकार की ‘Keys’ को दबाकर कम्प्यूटर में प्रविष्ट किया जाता है। ‘QWERTY’ ‘Keyboard का सबसे चित्र अधिक सामान्य प्रारूप है। इसे यह नाम इस लिये दिया गया है। क्योंकि Q. W.E. R. T, और Y सबसे ऊपर की कतार के वर्ण या अक्षर है।

 की बोर्ड का प्रारूप [Layout of the Keyboard]

की बोर्ड (Keyboard) के प्रारूप को निम्नलिखित पांच अनुभागों में विभक्त किया जा सकता है:
 1. टाइपिंग कीज (Typing Keys) ये कीबोर्ड की सामान्य कीज है इनमे अक्षरों (letters) व संख्याओं (Numbers) की कीज शामिल होती है।
2.संख्यात्मक की पैड (numerical Keypad): इसका प्रयोग संख्यात्मक डाटा को प्रविष्ट करने के लिये किया जाता है। सामान्तया इस में 17 Keys होती है। इन कीज को कैलक्युलेटर के समान नियोजित किया जाता है।
3.फंक्शन कीज (Function Keys) F1 से लेकर F2 संख्या तक चिन्हित ये keys ‘की-बोर्ड’ के सबसे ऊपरी भाग में रहती है। इनके द्वारा किए जाने वाला काम प्रयोग किए जाने वाले सॉफ्टवेयर पर निर्भर करता है।
4 कंट्रोल कीज (Control Keys) इन कीज से कर्सर (Cursor) और स्क्रीन नियन्त्रण होता है। इसमें चार दिशा निर्देश ‘arrow key’ भी शामिल है। Home, End, Insert, Delete, Page up, Page down, Control (Ctrl), Alternate (Alt) and Escape (Esc) आदि कीज शामिल है।
5 विशेष उद्देश्य की कीज (Special Purpose keys) की बोर्ड पर कुछ विशेष प्रकार की की होती है जैसे कि Enter, Shift, Caps lock, Num lock, Spacebar, Tab और Print Screen.

पॉइंटिंग डिवाइसिज [Pointing Devices]

माऊस (Mouse)

माऊस सर्वाधिक उपयोग होने वाला कर्सर कंट्रोल डिवाइस है। माउस एक छोटा सा डिब्बा होता है जिसमें नीचे एक गोल बॉल स्त्री होती है। इसके ऊपर दो या तीन दबाने वाले बटन लगे होते है।
Input devices of computer
                माउस का प्रयोग कर्सर (Cursor) को स्क्रीन पर आसानी से नियंत्रित करने के लिए किया जाता है।
जैसे-जैसे माऊस फ्लैट सतह पर घूमता है उसी तरह स्क्रीन पर पॉइंटर (pointer) घूमता है।
माऊस से टेक्स्ट (Text) डाटा नही भेजा जा सकता। इसलिए इसे कीबोर्ड के साथ उपयोग में लाया जाता है। लाभ:
1. प्रयोग में आसान
2. कम कीमत
3. कर्सर को कीबोर्ड की ऐसे कीज (arrow keys) की तुलना में आसानी और तेजी से move किया जा सकता है।

 जॉयस्टिक [ Joystick ]

ये एक पॉइंटिग डिवाइस है जो कि मानीटर स्क्रीन पर कर्सर को मूव करवाता है। ये एक स्टिक से बना होता है जिसमें ऊपर और नीचे दोनों सिरों पर गोल बॉल होती है
Input devices of computer
जैसा कि चित्र में दिखाया गया है। नीचे वाली गोल बॉल सॉकेट (socket) में घूमती है।
जॉय स्टिक को सभी चारों दिशाओं में घुमाया जा सकता है। इसका कार्य माऊस से मिलता जुलता है।
इसका मुख्य रूप से प्रयोग कम्प्यूटर ऐडेड डिजाइनिंग (CAD) और कम्प्यूटर पर गेम (games) खेलने में किया जाता है।

ट्रैकर बाल [Tracker Ball]

इस इनपुट डिवाइस का मुख्यतः उपयोग लेपटॉप कम्प्यूटर और नोटबुक में माऊस की जगह किया जाता है। यह बाल आधी धंसी (Inserted) होती है और इस बाल पर उंगलियों को घुमा कर पॉइंटर को मूव किया जाता है।
Input devices of computer
इसे कई बार माऊस से बेहतर माना जाता है क्योंकि इसमें हाथ की बाजू को कम घुमाना पड़ता है और इसके लिए कम जगह की आवश्यकता होती है।

 लाईट पेन (Light Pen)

लाईट पेन (पैन की तरह) एक पॉइंटिग डिवाइस है जिसकी सहायता से स्क्रीन पर दिखने वाली मेन्यू आईटम (menu item) को स्लेक्ट (select) किया जाता है या पिक्चर बनाई। जा सकती है।
Input devices of computer
       इसमें एक फोटोशेल (photocell) होता है और एक आप्टीकल प्रणाली (Optical System) जिसे छोटी सी ट्यूब में रखा जाता है। जब इसकी नोक (tip) को मानीटर स्क्रीन पर घुमाया जाता है और पेन का बटन दबाया जाता है तो photocell का sensing तत्व स्क्रीन की उस जगह को ऑपकर (detect) सिग्नल (संकेतों) को CPU को भेज देता है।

ऑप्टिकल स्कैनर [Optical Scanner]

 1.आप्टीकल मारक रिडर [Optical Mark Reader]

ये स्कैनर पैसिल या पेन से बने किसी पूर्व निश्चित तरह के मार्क को पहचानने में सक्षम होते है।
उदाहरण के रूप में, यदि काफी छात्रों ने वस्तुनिष्ठ (objective) तरह का पेपर दिया हो ।
उन प्रश्नों के उत्तर उन्होंने किसी वर्ग या गोल जगह को पेंसिल से काला करके (अच्छी तरह से भरके)।
इन उत्तर शीटों (answer sheets) को सीधे कम्प्यूटर में डालकर OMR की सहायता उदाहरण सीधे ग्रेडिंग की जा सकती है।
       मान लीजिए एक आबजेक्टिव प्रश्न पत्र है और उसके उत्तर पत्र (पुस्तिका) को आप्टीकल मार्क रीडर (OMR) की सहायता से प्रांप्ताक (grade) ज्ञात किया जा सकता है, जिसे नीचे दिया जा रहा है।
प्रश्न÷Decimal संख्या 7 का बाइनरी  equivalent है।  (a) 101, (b) 111, (C) 001, (d) 100
Input devices of computer

2.आप्टीकल कैरेक्टर रिडर [Optical Character Readers)

ये स्कैनर डिवाइस पृष्ठ पर छपे हुए अल्फावेटिक (alphabetic) और न्यूमेरिक (Numeric) अक्षरों को पढ़ने में सक्षम है। ये अक्षर हाथ से लिखे या छपे हुए हो सकते है।
हाथ से लिखे अक्षरों में सभी अक्षरों का स्टैंडर्ड आकार का होना अनिवार्य है। अक्षरों को बनाने वाली लाइने जुड़ी होनी चाहिए और कोई स्टालिश (stylish) तरीके से ना लिखे ऐसी सावधानियाँ रखनी पड़ती है।
जबकि दूसरी तरफ यदि ये अक्षर टाईप किए हुए (Type written) है तो ये एक विशिष्ट तरह के font में छपे (Type) हुए होने चाहिए जिन्हें OCR Font कहते है।
कैरेक्टर (character) को स्कैन करने के बाद मशीन में डले हुए अक्षरों के साथ इस की तुलना की जाती है।
जिस पैटर्न (Pattem) के साथ ये मिलता है, उसी अक्षर को (Read) पढ़ लिया समझा जाता है। यदि सौन अक्षर किसी भी पैटर्न से मिलान को संतुष्ट नहीं कर पाता, तो उस अक्षर को reject कर दिया जाता है।

बार कोड रिडर [Bar code reader]

इस उपकरण की सहायता से बार कोड डाटा को पद्म (समझा जाता है। इस कार्य के लिए लेजर बीम का प्रयोग होता है जो कम्प्यूटर से जुड़ी होती है। लेजर बीम इनपुट डाटा के पैटर्न के ऊपर डाली जाती है ताकि रिकार्ड डाटा को पढ़ा जा सके।
Input and Output Devices of Computer
बार कोड में सर्वाधिक प्रयोग होने वाले बार कोड को यूनिवर्सल प्रोडक्ट कोड (UPC-universal product code) के नाम से जाना जाता है जो अमरीका के करीबन सभी रिटेल पैकेज पर दिखाई देते हैं।
ये बार decode होने पर 10 अंकों में represent किए जाते हैं। पहले 5 अंक निर्माता या सप्लायर की उत्पाद के) पहचान के लिए होते है जबकि अगले 5 अंक उस विशिष्ट उत्पाद जो कि निर्माता बेच रहा है, उसकी पहचान के लिए होते है।
लाभ:
1.100% ठीक आउटपुट (accurate)
2.तेज गति (Very fast)
3.कम कीमत (Low cost)

 मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकगनिशन [MICR-Magnetic-ink character Recognition]

ये डिवाईस बैंक उद्योग (Bank industry) में प्रोसेस होने वाले प्रतिदिन के ढेर सारे चैक (cheque) के कार्य में मदद करने के लिए बनाया गया है।
MICR यंत्रों का उपयोग करने वाले बैंकों में एक खास तरह का चेक प्रयोग किया जाता है। सभी चेको पर बैंक का पहचान कोड और ग्राहक का खाता संख्या (Account no.) एक खास तरह की स्याही से छपा होता है।
जब भरा हुआ चेक बैंक में दिया जाता है, तो बैंक कर्मचारी को सिर्फ नीचे दाहिनी कोने में लिखी रकम (amount) को encode करना पड़ता है, बाकी चेक की प्रोसेसिंग MICR उपकरण करता है।
Input and Output Devices of Computer
लाभ
1.उसकी तीव्र गति है।
2.बहुत ही कार्य कुशल (efficient) और समय की बचत करने वाला है।

माइक्रोफोन [Microphone]

यह एक इनपुट उपकरण है जिसके माध्यम से आवाज (sound) को डिजीटल रूप में संग्रहण (store) कर सकते है। इसका प्रयोग कई क्षेत्रों में होता है जैसे मल्टीमीडिया प्रेजेन्टेशन (Multimedia presentation) में आवाज को जोड़ना, संगीत में मिकसिंग आदि।
Input and Output Devices of Computer

टच स्क्रीन [Touch Screen]

÷स्पर्श स्क्रीन इनपुट को तभी दर्ज करती है जब कोई अगुली या दूसरी वस्तु स्क्रीन के सम्पर्क में आती है। सभी इनपुट डिवाइसिज में से टच स्क्रीन सबसे अधिक सरल और सीखने आसान है।
टच स्क्रीन का प्रयोग काफी लम्बे समय से मिलिट्री क्रियाओं में लिया गया है। जैसा चित्र में दर्शाया गया है।
‘Automated’ लाटरी मशीन जिनमें टच स्क्रीन का प्रयोग किया जाता है। सुपर मार्किट (Super markets) और परचून स्टोरो में लोकप्रिय बनती जा रही है।
Input Devices of Computer
आजकल ATM (Automatic Teller Machine) टच
स्क्रीन का प्रयोग किया जाता है।

टच पैड [Touch Pad]

कुछ कम्प्यूटर पर Pointing device के रूप में एक छोटे संवेदनशील टच पैड का प्रयोग किया जाता है।
पैड़ के साथ-साथ अंगुली या दूसरी वस्तु घुमा कर आप ‘Painter’ को ‘Display Screen’ पर घुमा सकते है।
बहुत उपकरण जैसे कि ‘Microwave oven’ टच पैड का इस्तेमाल करते है।
Input Devices of Computer

डिजीटल कैमरा [Digital Camera]

डिजिटल कैमरा से हम फोटो लेते है, उसे स्टोर करते हैं। फोटोग्राफ (Photograph) डिजिटल फाईल के रूप में कम्प्यूटर में स्टोर की जाती है। डिजीटल कैमरा के माध्यम से तेज गति से अच्छी क्वालिटी की फोटो ली जा सकती है।
Input Devices of Computer
(1) व्यक्ति या वस्तु की तस्वीर लेने लिए डिजिटल कैमरे उस पर केन्द्रीत किया जाता है।
(ii) डिजिटल कैमरा, डिजिटल फार्म वस्तु का प्रतिबिम्ब (Image) बनाता  ताकि उसे कम्प्यूटर में  स्टोर किया सके।
(iiii) कम्प्यूटर के प्रतिबिम्ब डेटाबेस (Image Database) में उसी प्रकार के पहले से स्टोर किये गये प्रतिबिम्व (Image) को मिलाया जाता है।
(iv) इस बात का पता लगाने पर कि मिलान (Match) हो गया है या नहीं, कम्प्यूटर उचित कार्य करता है।
श्रेणी: Computer

0 टिप्पणियाँ

प्रातिक्रिया दे

Avatar placeholder

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.